प्रदेश में गोडावण की मौत का कारण हाड़ौती का विकास —खनन मंत्री प्रमोद जैन भाया

 प्रदेश में गोडावण की मौत का कारण हाड़ौती का विकास —खनन मंत्री प्रमोद जैन भाया 


छोटा अखबार।

प्रदेश में साधु के आत्मदाह और फिर मौत के बाद राजनीति में बरसात के दिनों में भी उबाल आया हुआ। इसी संदर्भ में कुछ दिन पहले कांग्रेस विधायक भरत सिंह ने खान मंत्री प्रमोद जैन भाया को खान माफिया कहा था।


खान मंत्री ने जवाब देते हुए राबड़ी भाजपा पर ढ़ोड़ते हुये कहा कि प्रदेश भर में अवैध खनन कम हुआ है और राजस्व में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है। श्री भाया ने विधायक भरत सिंह के आरोपों पर सरकार को पत्र लिख कर स्पष्ट किया की सोरसन क्षेत्र में विलुप्त होते पक्षी बारां, झालावाड़, कोटा के विकास के लिए जो विद्युत तंत्र विकसित हुआ है, वह गोडावण की मौत का एक कारण है। लेकिन उस विद्युत तंत्र को समाप्त करना बारां जिले के विकास की रीढ़ हड्डी को समाप्त करना जैसा होगा और सांगोद विधायक भरतसिंह हमारी पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं, जिनकी बात या आपत्ति का बुरा नहीं मानना सीख लिया है। भारत सरकार ने हमारे खनिज विभाग को राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा। जिससे हमारे लोकप्रिय मुख्यमंत्री को मिल रही अनुमोदना और बधाईयों से विपक्ष बौखला गया।

आपको बतो दें कि भरत सिंह ने खान मंत्री पर अपने जिले में अवैध खनन का रिकॉर्ड कायम करने का आरोप लगाया था। अन्होने कहा था कि बारां जिले में भ्रष्ट अधिकारियों को उच्च पदों पर मंत्री ने नियुक्त किया है। अवैध खनन के कारण कई लोग मरे हैं। जंगल, जमीन और नदी नालों पर अवैध खनन करवाकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है। सरकार खनन मंत्र को बर्खास्त करे। 

Comments

Popular posts from this blog

देश में 10वीं बोर्ड खत्म, अब बोर्ड केवल 12वीं क्‍लास में

आज शाम 7 बजे व्यापारी करेंगे थाली और घंटी बजाकर सरकार का विरोध

रीको में 238 पदों की होगी सीधी भर्ती सरकार के आदेश जारी 

मौलिक अधिकार नहीं है प्रमोशन में आरक्षण — सुप्रीम कोर्ट

10वीं और 12वीं की छात्राओं के लिऐ खुशखबरी, अब नहीं लगेगी फीस

फ़ार्मा कंपनियां डॉक्टरों को रिश्वत में लड़कियां उपलब्ध कराती हैं — प्रधानसेवक

ग्राम पंचायत स्तर पर युवाओं को मिलेगा रोजगार