Posts

Showing posts from February 27, 2020

मेज नदी हादसा दुख की घड़ी में सरकार आपके साथ — चिकित्सा मंत्री

Image
मेज नदी हादसा दुख की घड़ी में सरकार आपके साथ — चिकित्सा मंत्री छोटा अखबार। बूंदी जिले के लाखेरी के पास मेज नदी हादसे में मृतकों का गमगीन माहौल में हजारों लोगों की मौजूदगी में किशोरपुरा मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार किया गया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी इस दर्दनाक हादसे में लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है। गहलोत ने मुख्यमंत्रीे सहायता कोष से मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रूपये और घायलों को 40-40 हजार रूपये की सहायता देने की घोषणा की है।  किशोरपुरा मुक्तिधाम पहुंचे चिकित्सा मंत्री व परिवहन मंत्री ने मृतकों के परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया। उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में सरकार आपके साथ है। मुख्यमंत्री सहित पूरी सरकार उनके साथ खड़ी है। बच्चों की परवरिश में परेशानी नहीं हो इसकी व्यवस्था की जायेगी।  चिकित्सा मंत्री महाराव भीमसिंह चिकित्सालय पहुंचे और मेज नदी दुखांतिका में घायलों से मिलकर उनकी कुशलक्षेम पूछी। उन्होंने अस्पताल प्रबंधन को उचित ईलाज के साथ विशेष टीम गठित कर निरन्तर देखभाल करने के निर्देश दिये। सर्किट हाउस में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक कर दुखांतिका में प्रभाव

मुख्यमंत्री ने स्कूली बच्चों को दिलाई शपथ

Image
मुख्यमंत्री ने स्कूली बच्चों को दिलाई शपथ छोटा अखबार। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को स्कूली बच्चों को निरोगी राजस्थान-स्वस्थ राजस्थान का संकल्प घर-घर तक पहुंचाने में भागीदारी निभाने की शपथ दिलाई।  एसएमएस मेडिकल कॉलेज मैदान में आयोजित कार्यक्रम में 11 विभिन्न स्कूली बच्चों के कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों ने यह भी संकल्प लिया कि वे आमजन को रोगमुक्त रहने और ऑर्गन डोनेशन के लिए प्रेरित करेंगे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर निरोगी राजस्थान, अंगदान तथा रेयर डिजीज से संबंधित जागरूकता पोस्टर एवं फोल्डर का विमोचन भी किया।

सांप्रदायिकता से दिल्ली के साथ गुजरात में भी तनाव 

Image
सांप्रदायिकता से दिल्ली के साथ गुजरात में भी तनाव  छोटा अखबार। राजधानी दिल्ली के साथ गुजरात में भी लगातार तीसरे दिन सांप्रदायिक तनाव बना रहा। पुलिस महानिरीक्षक आई के जडेजा रेंज अहमदाबाद के अनुसार आणंद जिले के खंभात कस्बे में भीड़ ने मंगलवार को सड़क किनारे बनी दो झोपड़ियों और मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने इस घटना के तहत पांच लोगों को हिरासत में लिया। जडेजा ने कहा कि हिंदू संगठनों ने रविवार और सोमवार को हुई हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर बंद का आह्वान किया था। कई लोग मंगलवार की दोपहर गवरा चौक पर एकत्र हुए और उन्होंने प्रदर्शन किया। जडेजा के अनुसार खंभात कस्बे में स्थिति अब नियंत्रण में है। मौके पर रैपिड एक्शन फोर्स  की दो कंपनियां व राज्य रिजर्व पुलिस की चार कंपनियों को तैनात किया गया है, साथ ही पर्याप्त संख्या में पुलिसकर्मियों को भी तैनात किया गया है। वहीं दुसरी ओर खंभात में हुए सांप्रदायिक झड़पों के लिए भाजपा सरकार ने जनसांख्यिकीय बदलाव को जिम्मेदार ठहराया है। सरकार ने निर्णय लिया है कि शहर के अशांत क्षेत्र अधिनियम लगाया जाएगा।  जानकारी