Posts

Showing posts from July 29, 2020

33 विधानसभा क्षेत्र के घरों में पहुंचेगे नल, 613 करोड़ 52 लाख की स्वीकृति जारी

Image
33 विधानसभा क्षेत्र के घरों में पहुंचेगे नल, 613 करोड़ 52 लाख की स्वीकृति जारी छोटा अखबार। जलदाय विभाग द्वारा प्रदेश में जल जीवन मिशन के तहत 201 ग्रामीण जल वितरण योजनाओं के तहत 613 करोड़ 52 लाख रुपये की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति जारी की गई है। जलदाय मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने इसकी मंजूरी प्रदान की है। इससे प्रदेश के 19 जिलों में 33 विधानसभा क्षेत्रों के गांव एवं ढाणियों में घरों में नल से जल आपूर्ति के लिए एक लाख 35 हजार 164 नल से जल कनेक्शन जारी किए जाएंगे।   जलदाय मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने बताया कि राज्य के 19 जिलों में 33 विधानसभा क्षेत्रों के गांव एवं ढाणियों के लिए 201 सिंगल एवं मल्टी विलेज स्कीम्स के लिए जल जीवन मिशन के अन्तर्गत केन्द्र एवं राज्य सरकार के 50-50 प्रतिशत शेयर के आधार पर ये स्वीकृतियां जारी की गई हैं। उन्होंने बताया कि इसके तहत अलवर जिले के थानागाजी विधानसभा क्षेत्र के तहत 19 योजनाओं के तहत 7 हजार 539 कनेक्शन जारी किए जाएंगे, इसके लिए 2041.86 लाख रुपये की स्वीकृति जारी की गई है। इसी प्रकार भरतपुर जिले के नदबई विधानसभा क्षेत्र में 13 योजनाओं के 8075 नल कनेक्

जयपुर डिस्कॉम में खराब मीटर 31 अगस्त तक बदले जायेंगे —प्रबन्ध निदेशक

Image
जयपुर डिस्कॉम में खराब मीटर 31 अगस्त तक बदले जायेंगे —प्रबन्ध निदेशक                छोटा अखबार।       जयपुर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक ए.के.गुप्ता ने मंगलवार 28 जुलाई  को राजमीट वीसी प्लेटफार्म के माध्यम से जयपुर डिस्कॉम में चल रहे विभिन्न कार्यों एवं योजनाओं की समीक्षा की। राजमीट वीसी प्लेटफार्म के द्वारा आयोजित वर्चुवल वीडियो कान्फ्रेन्स में जयपुर डिस्कॉम के निदेशक वित्त, अति. पुलिस अधीक्षक (सतर्कता), संभागीय मुख्य अभियन्ता, अधीक्षण अभियन्ता, मुख्य लेखाधिकारी, अधिशाषी अभियन्ता, सहायक अभियन्ता, कनिष्ठ अभियन्ता व फीडर इंचार्ज सहित लगभग 5944 अधिकारी-कर्मचारी लाईव स्ट्रीम पर व 43 इन्टरएक्टिव रहे।  जयपुर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक ने वर्चुवल मीटिंग के माध्यम से समीक्षा करते हुए कहा कि खराब मीटरों की वजह से उपभोक्ताओं को औसत उपभोग के आधार जारी किए जाने वाले बिलों के विवाद को समाप्त करने व वास्तविक रीडिंग का बिल जारी करने के लिए खराब मीटरों को बदलने पर मीटिंग में चर्चा की गई। वर्तमान में घरेलू श्रेणी में एक लाख 25 हजार 722 मीटर खराब चल रहे है, इनमें से भी 74 हजार मीटर 6 माह से अधिक अवधि से