मुख्यमंत्री ने किया प्रदेश के पहले हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का शिलान्यास

 मुख्यमंत्री ने किया प्रदेश के पहले हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का शिलान्यास 


छोटा अखबार।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार निरोगी राजस्थान की परिकल्पना को साकार करने के लिए प्रतिबद्ध है। इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए प्रदेश में महत्वकांक्षी चिंरजीवी योजना लागू की है जिसके अंतर्गत आमजन को 10 लाख रूपये तक का ईलाज निःशुल्क प्रदान किया जा रहा है। कोरोना के बाद आयी समस्याओं को देखते हुए इस योजना को लागू किया ताकि आमजन को सु्गमता से नि:शुल्क इलाज मिल सके। 

श्री गहलोत ने रविवार को राजसमन्द जिले की खमनोर तहसील के बिल्ली की भागल गांव में आयुर्वेदिक चिकित्सा केंद्र हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर के भूमि पूजन और शिलान्यास समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में मेडिटूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए राजस्थान का पहला योग और आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति पर आधारित हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर बन रहा है। साथ ही इस सेंटर के लिये पहले चरण में 30 करोड रूपये देने की घोषणा की। साथ ही नाथद्वारा में राज्य सरकार की ओर सेगायत्री परिवार को 5 हैक्टेयर जमीन निःशुल्क देने की घोषणा की। 

मुख्यमंत्री ने कहा हमारा प्रयास है कि प्रदेश आधारभूत संसाधनों में मजबूत बने। उन्होंने कहा कि इस वैलनेस सेंटर में आयुर्वेदिक औषधियों, योग, प्राकृतिक चिकित्सा आदि से लाभ मिलेगा।राज्य सरकार द्वाराइस प्रकार के और भी सेंटर अन्य स्थानों पर खोले जायेंगे। 

मुख्यमंत्री ने शिक्षा पर बल देते हुये कहा हमारा प्रयास है कि सभी को अच्छी शिक्षा मिले इसके लिये हमारा मुख्य फोकस है। इसके लिये हमने प्रदेश में हिन्दी के साथ अंग्रेजी माध्यम के भी स्कूल खोले है। उन्होंने कहा कि राजस्थान शिक्षा के क्षेत्र में सशक्त बनकर उभर रहा है। उन्होंने चिकलवास,कागमदारडा,तकडीया का गुडा की स्कूलों को आठवीं से दसवीं में क्रमोन्नत करने की घोषणा भी की। 


Comments

Popular posts from this blog

देश में 10वीं बोर्ड खत्म, अब बोर्ड केवल 12वीं क्‍लास में

आज शाम 7 बजे व्यापारी करेंगे थाली और घंटी बजाकर सरकार का विरोध

रीको में 238 पदों की होगी सीधी भर्ती सरकार के आदेश जारी 

मौलिक अधिकार नहीं है प्रमोशन में आरक्षण — सुप्रीम कोर्ट

10वीं और 12वीं की छात्राओं के लिऐ खुशखबरी, अब नहीं लगेगी फीस

फ़ार्मा कंपनियां डॉक्टरों को रिश्वत में लड़कियां उपलब्ध कराती हैं — प्रधानसेवक

ग्राम पंचायत स्तर पर युवाओं को मिलेगा रोजगार