भारतीय मित्र देश कुवैत के सांसद में भारत का विरोध

 भारतीय मित्र देश कुवैत के सांसद में भारत का विरोध


छोटा अखबार।

बीजेपी की पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा की पैग़ंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी का जोर अभी खत्म हुआ नहीं है। यह टंटा अब देश से निकल कर खाड़ी देशों तक जा पहुंचा है।

भारत के सबसे पुराने सहयोगी देश कुवैत के संबंधों में दरार जैसे नौबत आगई है। मीडिया सूत्रों के अनुसार कुवैत की संसद में भारत सरकार पर दबाव डालने के लिए कुवैती सांसदों ने पुरजोर वकालात की है। कुवैत टाइम्स ने लिखा है कि नेशनल असेंबली के 50 सांसदों में से 30 सांसदों ने अपने हस्ताक्षर किया हुआ एक बयान जारी किया है। जारी बयान में भारत के प्रदर्शनकारी मुसलमानों पर पुलिस कार्रवाई की कड़ी निंदा की गई है। सांसदों ने कुवैत की सरकार और अन्य इस्लामिक देशों से अपील की है कि वे भारत की सरकार पर राजनीति, राजनयिक और आर्थिक दबाव डाले।

Comments

Popular posts from this blog

देश में 10वीं बोर्ड खत्म, अब बोर्ड केवल 12वीं क्‍लास में

आज शाम 7 बजे व्यापारी करेंगे थाली और घंटी बजाकर सरकार का विरोध

रीको में 238 पदों की होगी सीधी भर्ती सरकार के आदेश जारी 

मौलिक अधिकार नहीं है प्रमोशन में आरक्षण — सुप्रीम कोर्ट

10वीं और 12वीं की छात्राओं के लिऐ खुशखबरी, अब नहीं लगेगी फीस

फ़ार्मा कंपनियां डॉक्टरों को रिश्वत में लड़कियां उपलब्ध कराती हैं — प्रधानसेवक

ग्राम पंचायत स्तर पर युवाओं को मिलेगा रोजगार