अमित शाह से कमलनाथ का निवेदन 22 विधायकों को सुरक्षित वापस आने दिया जाए

अमित शाह से कमलनाथ का निवेदन 22 विधायकों को सुरक्षित वापस आने दिया जाए


छोटा अखबार।
मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन ने शनिवार देर रात अपने बयान में कहा कि सोमवार को विधानसभा में उनके अभिभाषण के फौरन बाद फ्लोर टेस्ट कराया जाए। वहीं विधानसभा अध्यक्ष से कहा कि विश्वासमत पर होने वाली वोटिंग की पूरी कार्यवाही की वीडियोग्राफी भी कराई जाए।



दुसरी ओर भारतीय जनता पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात कर मुख्यमंत्री कमलनाथ पर कांग्रेस के बाग़ी 22 विधायकों को धमकाने और प्रलोभन देने का आरोप लगाया है।



समाचार सूत्रों के अनुसार 22 में से 19 विधायक बंगलुरु में मौजूद हैं। उन्होंने ईमेल भेज कर राज्यपाल को चिट्ठी लिखी है। जिसमें सुरक्षा कारणों की वजह से प्रदेश लौटने में असमर्थता जताते हुए उन्होंने अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है। मध्य प्रदेश में चल रहे राजनीति संकट के बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ की एक चिट्ठी की चर्चाएं ज़ोरों पर है। ये चिट्ठी देश के गृह मंत्री अमित शाह के नाम लिखी है। चिट्ठी में उन्होंने अमित शाह से निवेदन किया है कि बंगलुरु गए उनके 22 विधायकों को सुरक्षित वापस आने दिया जाए जिससे वो 16 मार्च से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में हिस्सा ले सकें।


Comments

Popular posts from this blog

देश में 10वीं बोर्ड खत्म, अब बोर्ड केवल 12वीं क्‍लास में

आज शाम 7 बजे व्यापारी करेंगे थाली और घंटी बजाकर सरकार का विरोध

रीको में 238 पदों की होगी सीधी भर्ती सरकार के आदेश जारी 

मौलिक अधिकार नहीं है प्रमोशन में आरक्षण — सुप्रीम कोर्ट

10वीं और 12वीं की छात्राओं के लिऐ खुशखबरी, अब नहीं लगेगी फीस

ग्राम पंचायत स्तर पर युवाओं को मिलेगा रोजगार

फ़ार्मा कंपनियां डॉक्टरों को रिश्वत में लड़कियां उपलब्ध कराती हैं — प्रधानसेवक