बीएच लोया की मौत की दोबारा जाँच हो सकती है — देशमुख

बीएच लोया की मौत की दोबारा जाँच हो सकती है — देशमुख


छोटा अखबार।
महाराष्ट्र में भाजपा का राज जाते ही सीबीआई के विशेष न्यायाधीश बीएच लोया की मौत की दोबारा जाँच होना कई सवालों को खड़ा करता है। लोया के रिश्तेदार और उनके क़रीबी लोगों का मानना है कि लोया की मौत सामान्य मौत नही है। उनका शक है कि मौत में भाजपा नेताओं का हाथ है।



महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख के अनुसार जज लोया के कुछ रिश्तेदार और उनके क़रीबी लोगों से उनकी मुलाक़ात होने वाली है। देशमुख ने कहा कि इन लोगों का दावा है कि उनके पास कुछ नए सुबूत हैं। देशमुख ने कहा कि वो ख़ुद उन दस्तावेज़ों को देखेंगे और अगर ज़रूरत पड़ी तो केस को दोबारा खोला जाएगा।
जज लोया गुजरात के सोहराबुद्दीन फ़र्ज़ी मुठभेड़ में अपना फैंसला सुनाने वाले थे। उनकी मौत एक दिसंबर 2014 को नागपुर में दिल का दौरा पड़ने से हुई थी। लोया अपने एक सहयोगी की बेटी की शादी में शामिल होने के लिए नागपुर गए थे।
2017 में छपी खबरों के अनुसार जज लोया की मौत संदेहास्पद स्थिति में हुई थी। उसके बाद से ही उनकी मौत को लेकर सवाल उठने लगे है। सर्वोच्च न्यायालय ने कुछ भी ग़लत नहीं पाया और स्वतंत्र जाँच की मांग ख़ारिज कर दी। लेकिन अब महाराष्ट्र में ये मांग दोबारा उठने लगी है।


Comments

Popular posts from this blog

देश में 10वीं बोर्ड खत्म, अब बोर्ड केवल 12वीं क्‍लास में

आज शाम 7 बजे व्यापारी करेंगे थाली और घंटी बजाकर सरकार का विरोध

रीको में 238 पदों की होगी सीधी भर्ती सरकार के आदेश जारी 

मौलिक अधिकार नहीं है प्रमोशन में आरक्षण — सुप्रीम कोर्ट

10वीं और 12वीं की छात्राओं के लिऐ खुशखबरी, अब नहीं लगेगी फीस

फ़ार्मा कंपनियां डॉक्टरों को रिश्वत में लड़कियां उपलब्ध कराती हैं — प्रधानसेवक

ग्राम पंचायत स्तर पर युवाओं को मिलेगा रोजगार