बजट से पहले सीजेआई का बड़ा बयान

बजट से पहले सीजेआई का बड़ा बयान


छोटा अखबार।
भारत के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एस.ए. बोबड़े ने इनकम टैक्स अपीलेट ट्रिब्यूनल के 79वें स्थापना दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा है कि सरकार की ओर से जनता पर ज़्यादा या मनमाना कर लगाना समाज के प्रति अन्याय है। 



मुख्य न्यायाधीश ने कर चोरी को अपराध कहते हुए कहा कि यह दूसरे लोगों के साथ अन्याय है। केन्द्र में बजट पेश होने के क़रीब एक हफ़्ता पहले ये बात कही है। उन्होने उचित टैक्स पर ज़ोर देते हुए देश में पुराने समय में प्रचलित टैक्स क़ानूनों का  भी उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि नागरिकों से टैक्स उसी तरह वसूला जाए जिस तरह मधुमक्खी फूलों को नुक़सान पहुंचाए बिना रस निकालती है।


Comments