गावों में शिविर लगाकर घरेलू कनेक्शन जारी करें — प्रबन्ध निदेशक

गावों में शिविर लगाकर घरेलू कनेक्शन जारी करें — प्रबन्ध निदेशक


छोटा अखबार।                 
जयपुर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक ए.के.गुप्ता की अध्यक्षता में विद्युत भवन में निगम के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक आयोजत हुई। जिसमें विभिन्न कार्याें तथा योजनाओंं की नवम्बर माह तक हुई प्रगति की सर्किलवार समीक्षा की गई। इसके साथ ही उत्कृृष्ठ एवं सराहनीय कार्य के लिए सतर्कता शाखा के दो अधिकारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। बैठक में निदेशक तकनीकी व वित्त, सचिव-प्रशासन, मुख्य कार्मिक अधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतर्कता, संभागीय मुख्य अभियन्ता सहित निगम क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले सभी 12 जिलों के अधीक्षण अभियन्ता उपस्थित रहे।



आपके आस—पास हो रही किसी भी घटना के समाचार, फोटो और वीडियो हमें भेजे। ई—मेल या वॉट्सएप नम्बर—9414816824 पर! आपकी खबरों को दिखाया जायेगा।


प्रबन्ध निदेशक ने गावों में शिविर लगाकर अधिक से अधिक घरेलू कनेक्शन करने पर जोर दिया। जिलों में शिविर लगाकर अधिक से अधिक घरेलू कनेक्शन किए जाने का आव्हान किया। उन्होंने टी एण्ड डी लॉस, एटी एण्ड सी लॉस व राजस्व वसूली की सर्किल वाईज समीक्षा करते हुये सभी अधीक्षण अभियन्ताओं को निर्देश दिए कि विद्युत ड्रावल के अनुरुप ही बिलिंग होनी चाहिए और राजस्व वसूली भी शत-प्रतिशत होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि लॉस कम करने के लिए डिफेक्टिव मीटरों को तुरन्त बदला जाए, मांगपत्र जमा उपभोक्ताओं के कनेक्शन जारी करे और नए कनेक्शन के उपभोक्ताओं के प्रथम बिल जारी करने में देरी नही की जाए। बिजली चोरी पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए बड़े उपभोक्ताओं जैसे होटल, ढाबे, रेस्टोरेन्ट, रिसार्ट, चिलिंग सेन्टर आदि के कनेक्शनों की सौ फीसदी जांच की जाए। 



आपके आस—पास हो रही किसी भी घटना के समाचार, फोटो और वीडियो हमें भेजे। ई—मेल या वॉट्सएप नम्बर—9414816824 पर! आपकी खबरों को दिखाया जायेगा।
गुप्ता ने कहा कि निगम द्वारा लागू की गई कि एमनेस्टी योजना, “स्वैच्छिक भार वृद्धि घोषणा योजना“ एवं नियमित किसानों के बकाया बिजली बिलों के भुगतान की सरलीकृृत योजना के बारे में अधिक से अधिक उपभोक्ताओं को जानकारी देकर योजनाओं का लाभ उठाने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने अधीक्षण अभियन्ताओं को कहा कि डीडीयूजीजेवाई व आईपीडीएस स्कीम में डीपीआर के अनुसार कार्य हुआ है, इसका सत्यापन करने के बाद ही फाइनल पेमेन्ट करने की कार्यवाही की जाए। बकाया एनडीएस व इण्डिस्ट्रीयल कनेक्शन, विद्युत ट्रिपिंग, विद्युत दुर्घटनाओं की रोकथाम, ट्रांसफार्मर जलने की दर, बकाया घरेलू कनेक्शन, 50 हजार रुपए से अधिक बकाया राशि वाले उपभोक्ताओं से वसूली की स्थिति, फीडर पृृथकरण पर विस्तार से चर्चा कर समीक्षा की गई। 


Comments

Popular posts from this blog

देश में 10वीं बोर्ड खत्म, अब बोर्ड केवल 12वीं क्‍लास में

आज शाम 7 बजे व्यापारी करेंगे थाली और घंटी बजाकर सरकार का विरोध

रीको में 238 पदों की होगी सीधी भर्ती सरकार के आदेश जारी 

मौलिक अधिकार नहीं है प्रमोशन में आरक्षण — सुप्रीम कोर्ट

10वीं और 12वीं की छात्राओं के लिऐ खुशखबरी, अब नहीं लगेगी फीस

ग्राम पंचायत स्तर पर युवाओं को मिलेगा रोजगार

फ़ार्मा कंपनियां डॉक्टरों को रिश्वत में लड़कियां उपलब्ध कराती हैं — प्रधानसेवक