एक करोड़ के कार्यादेश युवाओं को बिना किसी टेंडर — मुख्य सचिव

एक करोड़ के कार्यादेश युवाओं को बिना किसी टेंडर — मुख्य सचिव


छोटा अखबार।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मालवीय नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में राजस्थान इनोवेशन एण्ड स्टार्टअप एक्सपो में समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि युवाओं के इस कार्यक्रम में आकर एक अलग तरह का उत्साह देखने को मिला है। यह उत्साह देश के भविष्य निर्माण में अहम भूमिका अदा करेगा। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी को युवा शक्ति पर पूरा विश्वास था। उन्होंने ही युवाओं को भागीदारी देने के उद्देश्य से मतदान की उम्र 21 से घटाकर 18 वर्ष करने का ऎतिहासिक फैसला लिया था। देश को 21वीं सदी में ले जाने का जो सपना उन्होंने देखा था, सूचना क्रांति उसी का परिणाम है। उन्होंने इस मौके पर युवाओं से आह्वान किया कि वे सूचना प्रौद्योगिकी एवं आधुनिक तकनीक का उपयोग करते हुए स्टार्टअप शुरू करें, राज्य सरकार उन्हें पूरा सहयोग करेगी। 



आपके आस—पास हो रही किसी भी घटना के समाचार, फोटो और वीडियो हमें भेजे। ई—मेल या वॉट्सएप नम्बर—9414816824 पर! आपकी खबरों को दिखाया जायेगा।


समारोह के दौरान मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता ने कहा कि युवा उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए  सरकार ने नवाचार के रूप में आई स्टार्ट राजस्थान शुरू किया है, जिसमें अब तक 1500 से अधिक स्टार्टअप नामांकित हो चुके हैं। इसके अलावा चैलेंज फॉर चैंज के तहत युवाओं को राज्य सरकार के साथ काम करने के अवसर प्रदान किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसमें एक करोड़ रूपये तक के कार्यादेश युवाओं को बिना किसी टेंडर प्रक्रिया के प्रदान किए जा सकेंगे।


 


Comments